Voda idea कभी भी बंद कर सकता है आपका सिम कार्ड, Jio, Airtel, BSNL में जल्दी से कर लो पोर्ट.

Vodafone Idea news : अगर आप भी Vodafone Idea के 255 करोड़ मोबाइल ग्राहकों में से हैं तो नवंबर का महीना आपके लिए आपदा लेकर आ सकता है। देश की तीन निजी मोबाइल कंपनियों में से एक Vodafone Idea Ltd. की मुश्किलें और गहरी हो गई हैं.

पहले से ही भारी कर्ज में डूबी कंपनी को नवंबर से अपनी सेवाएं बंद करनी पड़ सकती है। इस भारी बकाये के पीछे टावर सेवा कंपनी इंडस टावर्स का हाथ है।

इंडस टावर्स पर 7000 करोड़ का बकाया

एक रिपोर्ट के मुताबिक वोडाफोन आइडिया पर इंडस टावर्स का करीब 7,000 करोड़ रुपये बकाया है। लंबे समय से वोडा आइडिया इस बकाया को चुकाने से हिचक रही है। अब इंडस टावर्स ने अंतिम चेतावनी देते हुए अक्टूबर तक पूरा भुगतान करने को कहा है। ऐसा नहीं होने पर कंपनी ने नवंबर से टावर सेवाएं बंद करने की धमकी दी है।

जियो या एयरटेल, बीएसएनएल में पोर्ट करना होगा

Vodafone Idea Jio और Airtel के बाद देश की तीसरी सबसे बड़ी टेलीकॉम कंपनी है। दरअसल, यह तीन कंपनियों में पहले नंबर पर है। यह कंपनी गहरे कर्ज में है। कंपनी पर जून के अंत में 1.98 लाख करोड़ रुपये से अधिक का कर्ज था। इसमें से 1.16 लाख करोड़ रुपये का आस्थगित भुगतान बकाया है, जबकि बैंकों और वित्तीय संस्थानों का 15,200 करोड़ रुपये का कर्ज है। कंपनी पर फिनिश कंपनी नोकिया का 3,000 करोड़ रुपये और स्वीडिश कंपनी एरिक्सन का 1,000 करोड़ रुपये बकाया है।

इंडस टावर के अलावा एटीसी का भी बकाया

वोडाफोन आइडिया पर इंडस टावर्स ही नहीं 7,000 करोड़ रुपये बकाया है। बल्कि एक अन्य टावर सर्विस प्रोवाइडर अमेरिकन टावर कंपनी (एटीसी) पर भी 2,000 करोड़ रुपये बकाया है। इंडस टावर्स की बोर्ड मीटिंग इसी हफ्ते सोमवार को हुई थी। इसमें कंपनी की वित्तीय स्थिति पर चर्चा की गई। इसके बाद इंडस टावर्स ने वोडाफोन आइडिया को 7 हजार करोड़ रुपये के बकाया भुगतान के लिए पत्र लिखा है।

ये भी देखें

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Exit mobile version