HomeBusiness IdeasVertical Farming - बिना खेती के बाँस के अंदर ये महिला उगाती...

Vertical Farming – बिना खेती के बाँस के अंदर ये महिला उगाती है सब्जियां, कमाती है हजारों रुपये रोजाना.

Vertical Farming : दोस्तों हम लोग बिना खेतों के खेती की कल्पना भी नहीं कर सकते लेकिन वही दोस्तों छपरा की रहने वाली सुनीता ने ये कर दिखाया है सुनीता ने बिल्कुल भी हार नहीं मानी और उन्होंने खेती की एक नई तकनीक निकाल रखी है. और इस तकनीकी हर कोई बहुत ही ज्यादा तारीफ भी कर रहा है. इस तकनीक के माध्यम से दोस्तों सुनीता को 1 इंच भी खेती का उपयोग नहीं करना पड़ा.

ezgif.com gif maker 2022 07 20T205600.160

मात्र हाई स्कूल पास सुनीता ने जिस तकनीक को खेती करने के लिए अपनाया है उसको वर्टिकल फार्मिंग vertical farming कहते हैं. दोस्तों सुनीता ने इस खेती के बारे में जब से सोचना शुरू कर दिया था जब उन्होंने एक कबाड़ी के पास से पीवीसी पाइप को देखा. 

वर्ष 2011 से कर रहे हैं वर्टिकल फार्मिंग 

सुनीता बताती हैं कि सुनीता ने साल 2011 से वर्टिकल फार्मिंग करना स्टार्ट किया है. सुनीता ने पीवीसी पाइप को जगह जगह पर थोड़ा-थोड़ा काट दिया और कटी हुई जगह पर सब्जियों के पौधे लगा दिए. और दोस्तों सुनीता को पहली ही बार में उनको सफलता मिली और इसमें उन्होंने खेती करना शुरू किया. हालांकि दोस्तों पीवीसी पाइप थोड़ा महंगा तो पड़ता ही है पर दोस्तों इस बुद्धिमान महिला ने इसका भी एक बहुत सरल ऑप्शन निकाला है. 

सुनीता बाँस को पाइप की जगह पर करती हैं इस्तेमाल

यह महिला दोस्तों बाँस को PVC पाइप की तरह बनाकर प्रयोग करते हैं और बॉस के मात्र 4 फीट के स्टैंड को बनाने में केवल 40 से ₹45 का खर्च भी आता है वही दोस्तों इसमें मोटी कमाई होती है. लगाने के लिए अगर आप पीवीसी पाइप का इस्तेमाल करते हैं. तो आप लोगों को लगभग ₹500 का खर्च आ जाता है. 

छत के ऊपर सुनीता उगाती हैं सब्जियां

इस महिला ने दोस्तों अपने पूरे घर के बाहर के हिस्से को और छत को पूरी तरीके से वर्टिकल फॉर्मिंग में चेंज कर दिया है. और इस तकनीक के माध्यम से दोस्तों एलोवेरा, बैंगन, मिर्च और नींबू सहित बहुत से प्रकार की सब्जियां सुनीता उगाती हैं. और सुनीता ने दोस्तों अपने माध्यम से इस प्रकार की फॉर्मिंग के लिए बहुत ही महिलाओं को भी ट्रेनिंग दे रखी है. और इसके लिए दोस्तों बिहार सरकार के द्वारा उनको सम्मानित भी किया जा चुका है. 

20 साल से बिजली कनेक्शन नहीं लिया

अगर बिजली की बात करी जाए तो दोस्तों सुनीता पिछले 20 वर्षों से आत्मनिर्भर बनी हुई है. आज तक सुनीता ने बिजली कनेक्शन नहीं करवया है लेकिन फिर भी वह सारा काम बिजली के माध्यम से ही करते हैं. दोस्तों सुनीता सोलर एनर्जी का इस्तेमाल करती हैं और उनका यह मानना है कि सोलर एनर्जी का उपयोग करने के हमारी काफी ज्यादा बचत हो जाती है. 

आगे सुनीता कहती हैं कि जब बिहार में बहुत ही ज्यादा बिजली की किल्लत हुआ करती थी तो वह सोलर पैनल के माध्यम से लोगों की बैटरी को चार्ज करके दिन के 500 से ₹600 आसानी से कमा लिया करते थी. आगे सुनीता कहती हैं कि बिहार में सूर्य देव इतनी कृपा बरसाते हैं कि किसी को भी बिजली कनेक्शन करवाने की जरूरत नहीं है. कोई भी इंसान सोलर पैनल को लगाकर बिजली बना सकता है और किसी भी व्यक्ति की जितनी भी घर में जरूरतें होती हैं वह सोलर पैनल के माध्यम से पूरी हो सकती हैं. 

ये भी पढ़ें

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular