Homeबैंकिंगएटीएम कार्ड से ऐसे मिलेगी आपको 5 लाख की सहायता जानिये पूरी...

एटीएम कार्ड से ऐसे मिलेगी आपको 5 लाख की सहायता जानिये पूरी प्रक्रिया.

Atm Card Hidden Features : एटीएम कार्ड ने हमारे जीवन को बहुत आसान बना दिया है। जिससे हम कहीं भी पैसे निकाल सकते हैं, ऑनलाइन शॉपिंग कर सकते हैं। इसके अलावा, संबंधित व्यक्ति के आश्रित बैंक के एटीएम कार्ड का उपयोग करने के 45 दिनों के भीतर मृत्यु या दुर्घटना के मामले में बीमा पॉलिसी के तहत मुआवजे का दावा कर सकते हैं।

Atm full form

एटीएम कार्ड ने हमारे जीवन को बहुत आसान बना दिया है। इसके जरिए आप कहीं से भी पैसे निकाल सकते हैं और दुकानों पर स्वाइप करके खरीदारी कर सकते हैं। पैसे निकालने और शॉपिंग करने के अलावा एटीएम कार्ड के कुछ फायदे भी हैं, जिनके बारे में ज्यादातर लोगों को जानकारी नहीं है। क्या आप जानते हैं कि एटीएम कार्ड धारक की मृत्यु या दुर्घटना की स्थिति में यह आश्रितों का सहारा भी साबित हो सकता है।

राशि अलग-अलग कार्ड के अनुसार है-

बीमा की राशि एटीएम कार्ड की कैटेगरी के हिसाब से तय होती है। क्लासिक कार्ड पर एक लाख रुपये, प्लेटिनम कार्ड पर 2 लाख रुपये, सामान्य मास्टर कार्ड पर 50 हजार रुपये, प्लेटिनम मास्टर कार्ड पर 5 लाख रुपये और वीजा कार्ड पर 1.5 से 2 लाख रुपये। प्रधानमंत्री जन-धन खातों पर उपलब्ध RuPay कार्ड के साथ, ग्राहकों को 1 से 2 लाख रुपये तक का बीमा कवरेज मिलता है।

एटीएम कार्ड से मुफ्त में मिलता है दुर्घटना बीमा-

दरअसल, एटीएम कार्ड से आपको दुर्घटना बीमा मुफ्त मिलता है। अगर आपके पास किसी सरकारी या निजी बैंक का एटीएम है तो आपको दुर्घटना बीमा अपने आप मिल जाता है। यह बीमा 25 हजार रुपये से लेकर 5 लाख रुपये तक है। हालांकि, जानकारी की कमी के कारण ज्यादातर लोग इस बीमा का दावा करने में सक्षम हैं।

दुर्घटना बीमा के लिए क्लेम कैसे प्राप्त करें-

  1. अगर किसी एटीएम कार्ड धारक की दुर्घटना में मृत्यु हो जाती है तो कार्ड धारक के नामांकित व्यक्ति को उस बैंक की शाखा में जाना होगा जहां उस व्यक्ति का खाता था और वहां मुआवजे के लिए आवेदन जमा करना होगा। बैंक में जरूरी दस्तावेज जमा करने के बाद नॉमिनी को बीमा का क्लेम मिलता है।
  2. सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि बैंक के एटीएम कार्ड का उपयोग करने के 45 दिनों के भीतर संबंधित व्यक्ति के आश्रित मृत्यु या दुर्घटना के मामले में बीमा पॉलिसी के तहत मुआवजे का दावा कर सकते हैं।

ये भी पढ़ें

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular