HomeAnimal knowledgeInternational Tiger Day 2022 : कब और किस लिए मनाया जाता है...

International Tiger Day 2022 : कब और किस लिए मनाया जाता है विश्व टाइगर दिवस, जानिये अभी.

International Tiger Day 2022: दोस्तों एक समय वह था जो हमारे देश में बाघ विलुप्त होने लगे थे लेकिन आज दोस्तों बाघों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है. बाघों को बचाने के लिए और उनकी प्रजाति को विलुप्त होने से रोकने के लिए इंटरनेशनल टाइगर दिवस international tiger day 2022 मनाया जाता है. दोस्तों पूरी दुनिया में 29 जुलाई को विश्व टाइगर दिवस मनाया जाता है. हमारे देश का राष्ट्रीय पशु भी है फिर भी दोस्तों 2010 में  हमारे देश में विलुप्त होने की कगार पर था.

ezgif.com gif maker 95

इंटरनेशनल टाइगर दिवस International Tiger day 2022 का इतिहास

आपको जानकारी होना चाहिए कि पूरी दुनिया में मात्र 13 देशों में ही बाघ पाए जाते हैं. वही दोस्तों इनमें से लगभग 70% तो बस हमारे देश में ही मौजूद है.  वही दोस्तों साल 2010 में हमारे देश में बाघों की संख्या मात्र 1700 ही रह गई थी. जिसके चलते दोस्तों बाघों के लिए सेंट पीटर्स वर्ग में एक शिखर सम्मेलन रखा गया था. जिसमें दोस्तों हर वर्ष अंतर्राष्ट्रीय बाघ दिवस मनाने का ऐलान किया क्या था. इस सम्मेलन में दोस्तों बहुत सारे देशों में 2022 तक बाघों की संख्या को दोगुना करने का लक्ष्य रखा गया था. 

इंटरनेशनल टाइगर दिवस का महत्व

अंतरराष्ट्रीय बाघ दिवस के जरिए दोस्तों लोगों को बाघों को बचाने और उन को संरक्षित करने के लिए जागरूक किया जाता है. और इसके अलावा भी दोस्तों इस दिन लोगों को बाघों के बारे में और भी जानकारी दी जाती है. जिसका परिणाम हम लोग देख सकते हैं कि लगातार बाघों की संख्या में इजाफा होता जा रहा है. साल 2010 में बताया गया था कि हमारे देश में बाघों की संख्या मात्र 1710 रह गई है वही दोस्तों 2018 में अगर बात करी जाए तो इन बाघों की संख्या 2976 हो गई थी. 

हमारे देश में बाघों की संख्या तेजी से बढ़ने के साथ साथ ही उसके ऑक्युपेंसी एरिया भी बढ़ता जा रहा है. एक रिपोर्ट में बताया गया है कि बिहार मध्य प्रदेश उत्तराखंड और ऐसे राज्यों में बाघों की संख्या काफी तेजी से बढ़ रही है. आप लोगों को जानकारी होना चाहिए कि हमारे देश में बाघों की संख्या की जनगणना हर साल 4 साल में होती है. जिसके कारण आसानी से उनके ग्रोथ रेट का पता लग सकता है. हमारे देश में 1973 में मात्र 9 टाइगर रिजर्व थे जिसकी संख्या बढ़कर आज 51 हो गई है. 

टाइगर पर एक नजर

बाघ का वैज्ञानिक नाम  : दोस्तों टाइगर को हम लोग बिग कैट के नाम से भी बुलाते हैं। और टाइगर का जो वैज्ञानिक नाम थेरा टाइग्रिस है। और दोस्तों टाइगर नीलगाय, जंगली भैंस, हिरण, पाड़ा, बारहसिंघा जैसे जानवरों का शिकार करके अपना पेट भरता है. 

देश में बाघ : दुनिया में सबसे अधिक बाघों की संख्या हमारे देश में पाई जाती है. जो लगभग आज के समय लगभग 2967 हो चुके हैं कि दोस्तों जो कि दुनिया की कुल बाग की आबादी का 75% हिस्सा होता है. 

थीम : 2010 आज तक हर वर्ष टाइगर दिवस (International Tiger Day) खास थीम के अनुसार मनाया जाता है। अभी 2022 की थीम की घोषणा बाकी है। 2021 के टाइम की बात की जाए तो उनकी उत्तरजीविता हमारे हाथ में है थी. 

ये भी पढ़ें

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular