HomeDesh Videshसबसे पहले किस देश में बनीं थी फ्रेंच फ्राइ 3-3 देश जताते...

सबसे पहले किस देश में बनीं थी फ्रेंच फ्राइ 3-3 देश जताते है इस मजेदार स्वाद पर अपना हक.

 French Fries के origin के लिये 3-3 देश कर रहे दावा 

History of French Fries : दोस्तों आप लोग किसी भी रेस्टोरेंट में हो या फिर घर पर आपके मेहमान आए हो तो तुरंत उनको कुछ बनाकर अगर खिलाना है तो सबसे पहले बात आती है फ्रेंच फ्राइ की. इसे दोस्तों बड़ों से लेकर बच्चों तक बहुत ही अधिक पसंद भी किया जाता है और फिर भी दोस्तों आप लोगों ने कभी यह सोचा होगा कि आखिर फ्रेंच फ्राइ का आविष्कार किसने किया और कहां हुआ. किस ने इस देश इसको को बनाया और किसको खाने के लिए पेश किया सबसे पहले. सबसे रोचक बात तो यह है कि दोस्तों इस एक फ्रेंच फ्राइ पर एक का नहीं बल्कि तीन देश अपना हक बताते हैं.

ezgif.com gif maker 87

अब दोस्तों फ्रेंच फ्राई खुद तो बता नहीं सकती अगर उसकी जवान होती तो वह खुद ही बता देती कि उसका ओरिजिन कहां से है और कहां पहले बनाई गई. जैसे कि हमारे देश भारत में भी रसगुल्ले की उत्पत्ति के लिए दो राज्य बहुत समय तक भिड़े रहे थे ठीक उसी प्रकार फ्रेंच फ्राई पर भी अधिकार को जमाने के लिए विश्व के 3 देश है. जो अपना दावा पेश करते रहते हैं. बेल्जियम, अमेरिका और फ्रांस यह तीनों देशों का मानना है कि आलू से बनने वाली फ्रेंच फ्राई सबसे पहले उनके देश में बनी थी.

आज मछली की जगह आलू काटा बेल्जियम

कैरेमेंट फ्रिटेस नाम की एक किताब में बेल्जियम के लेखक अल्बर्ट वर्देयन ने फ्रेंच फ्राइस का नाम लेते हुए कहा है कि सबसे पहली बार इसको बेल्जियम के नामुर इलाके में बनाया गया था. दोस्तों वहां लोगों को मछली को काटकर खाना बहुत अधिक पसंद हुआ करता था. दोस्तों जो 1680 के दौरान अधिक ठंडे मौसम के कारण झीलें जम गई थी तथा उनको मछली नहीं मिल रही थी तो पेट को भरने के लिए उनको यह ऑप्शन के तौर पर आलू की फ्रेंच फ्राइज बनाकर दी जाती थी. और दोस्तों यह घटना साउथ बेल्जियम में हुई थी जहां पर लोग फ्रेंच ज्यादातर बोला करते थे. ऐसे में पहले विश्व युद्ध के चलते इसको अमेरिका के लोगों ने फ्रेंच फ्राई कहना शुरू कर दिया था.

अमेरिका का दावा

दोस्तों इस फ्रेंच फ्राई को लेकर अमेरिका ने भी दावा पेश किया है. अमेरिका के इतिहासकार कहते हैं कि 1802 में राष्ट्रपति थॉमस जेफरसन ने व्हाइट हाउस में डिनर करने से पहले फ्रांस के शेफ होनोरे जूलियन को आलू के लंबे लंबे टुकड़ों को फ्राई करके उनको देने के लिए कहा. और उनका शेफ यह डिश बनाकर लाया. और उस डिश को काफी पसंद किया गया और यह 1850 के दशक तक अमेरिका में बहुत ही ज्यादा प्रसिद्ध हो गई. थॉमस जेफरसन ने 19वीं सदी में लिखी जाने वाली पांडुलिपि पोम्स डे टेरे फ्राइट्स एंड पेटिट्स ट्रैंचेस (Pommes de terre frites en petites tranches)  में भी इसका नाम और इसका जिक्र किया है. 

फ्रांस का दावा

दोस्तों फ्रांस के प्रोफेसर पियर लेक्लेयर बताते हैं कि बेल्जियम का यह दावा बिल्कुल ही गलत है. वह कहते हैं कि नामुर में 1630 में आलू की पैदावार नहीं होती थी. फ्रेंच लोग मानते हैं कि 1780 में पैरिस के पल पोंट न्यूफ ने उसके आसपास एक छोटी सी फूड कॉर्नर पर सबसे पहले फ्रेंच फ्राई का आविष्कार हुआ. क्योंकि फ्रांस देश में आलू सामान्य तौर पर लोगों को खाने के लिए बहुत ही फेमस था इसलिए यह डिश भी काफी प्रसिद्ध हो गई

यह भी पढ़ें:-

अरुणाचल प्रदेश में पाया गया अद्भुत प्रकार का लिपस्टिक वाला पौधा

चींटी कभी नहीं सोती, जानिये चींटियों से जुड़ी रोचक बातें.

एक नदी में एक साथ बहते हैं पांच रंग के पानी

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular