HomeBiographyठग सुकेश चंद्रशेखर केस में नोरा फतेही से पूछताछ गिफ्ट लेना पड़ा...

ठग सुकेश चंद्रशेखर केस में नोरा फतेही से पूछताछ गिफ्ट लेना पड़ा भारी, बोलीं – जैकलीन से मेरा कोई लेना देना नहीं.

Thag Sukesh : ठग सुकेश चंद्रशेखर से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग मामले में अभिनेत्री नोरा फतेही से दिल्ली पुलिस ने शुक्रवार को पहली बार पूछताछ की। उनसे 6 घंटे में करीब 50 सवाल पूछे गए। आपने इसमें सुकेश से उपहार कब लिया? उसको कहा मिले? जैसे सवाल थे सूत्रों के मुताबिक नोरा ने पूरी पूछताछ में सहयोग किया। इस मामले में ईडी 3 बार एक्ट्रेस से पूछताछ कर चुकी है.

ezgif.com gif maker 19

नोरा ने कार गिफ्ट के बारे में पहले ही स्वीकार कर लिया था

ईडी से पूछताछ के दौरान आरोपी सुकेश चंद्रशेखर ने नोरा फतेही और जैकलीन फर्नांडीज को लग्जरी कारों समेत कई महंगे तोहफे का खुलासा किया था. 14 अक्टूबर 2021 को नोरा और सुकेश से आमने-सामने बैठकर पूछताछ की गई। इस दौरान नोरा ने खुद 1 करोड़ से ज्यादा की लग्जरी कार गिफ्ट के तौर पर लेने की बात कबूल की थी।

नोरा फतेही को चेन्नई में एक कार्यक्रम में भाग लेने के लिए सुकेश की पत्नी लीना पॉल के बदले में एक बीएमडब्ल्यू कार और एक आईफोन उपहार के रूप में दिया गया था। नोरा का बयान मनी लॉन्ड्रिंग एक्ट 2002 की धारा 50(2) और 50(3) के तहत दर्ज किया गया था। इसमें उन्होंने अपने ऊपर लगे आरोपों से इनकार किया था।

नोरा को आगे पूछताछ के लिए बुलाया जा सकता है


दिल्ली पुलिस के अधिकारी रवींद्र यादव ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि नोरा ने कुछ ही सवालों के जवाब दिए हैं. हम भविष्य में भी नोरा को सवाल-जवाब के लिए कॉल कर सकते हैं। इस मामले में अभी जांच जारी है और हम मामले से जुड़े सभी लिंक का पता लगाने की कोशिश कर रहे हैं। इसके साथ ही हम यह भी जानने की कोशिश कर रहे हैं कि इस मामले के अन्य आरोपी कौन हैं।

Nora fatehi news

दिल्ली पुलिस 12 सितंबर को जैकलीन से करेगी पूछताछ


नोरा के बाद दिल्ली पुलिस 12 सितंबर को जैकलीन से पूछताछ करेगी। वहीं ईडी ने 26 सितंबर को पूछताछ के लिए बुलाया है। दरअसल, इस मामले में बुधवार को दिल्ली की पटियाला कोर्ट में सुनवाई हुई। कोर्ट ने दोनों जांच एजेंसियों को जैकलीन से पूछताछ करने का आदेश दिया था।

200 करोड़ की ठगी का पूरा मामला


सुकेश चंद्रशेखर से जुड़े मामले में सबसे पहले दिल्ली पुलिस में प्राथमिकी दर्ज की गई थी। दिल्ली ईओडब्ल्यू ने अगस्त में उस एफआईआर पर जांच शुरू की थी। इस मामले में ईडी ने मनी लॉन्ड्रिंग की जांच भी शुरू कर दी थी. सुकेश पर रैनबैक्सी के पूर्व प्रमोटरों शिविंदर सिंह और मलविंदर सिंह की पत्नियों को जेल से बाहर निकालने के बहाने 200 करोड़ से ज्यादा की ठगी करने का आरोप है।

सुकेश कभी खुद को प्रधानमंत्री कार्यालय से जुड़ा अधिकारी तो कभी गृह मंत्रालय का अधिकारी कहते थे। इस धोखाधड़ी में तिहाड़ जेल के कई अधिकारी भी शामिल थे। सुकेश उन सभी को मोटी रकम देता था। ईडी ने 24 अगस्त को चेन्नई में सुकेश के समुद्र के सामने स्थित बंगले को जब्त कर लिया था। बंगले से 82.5 लाख रुपये, 2 किलो सोना और 12 से अधिक लग्जरी कारें जब्त की गई थीं।

ये भी देखें

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular