HomeSamacharRupee VS Dollar : गिरते हुये रुपये की वैल्यू के बीच भी...

Rupee VS Dollar : गिरते हुये रुपये की वैल्यू के बीच भी इन भारतीयों को हो रहा मोटा मुनाफा, जानिये कैसे हो रहीं कमाई.

Dollar vs Rupee : दोस्तों डॉलर के सामने हमारे देश का रुपया अब बहुत ही बुरी तरीके से टूट चुका है. और भारतीय करेंसी को एक बुरे दौर का सामना करना पड़ रहा है. हमारे देश का रुपया दोस्तों डॉलर के सामने सबसे बुरी तरीके से टूट चुका है यानी कि सबसे ज्यादा गिरावट पहले आ चुकी है. गुरुवार के दिन डॉलर के सामने हमारे देश का रुपया लगभग ₹80 पर बंद हुआ जो सबसे बड़ी गिरावट है आज तक की. दोस्तों ऐसा बिल्कुल भी नहीं है कि सिर्फ भारतीय रुपया ही डॉलर के सामने गिर रहा है डॉलर ने दोस्तों यूरोप से लेकर अमेरिका की बहुत सी currency को धूल चटा दी है. पर दोस्तों हम आपको बता दें कि हमारे देश के रुपए के गिरने के बाद भी कुछ लोगों को काफी ज्यादा फायदा हो रहा है.

ezgif.com gif maker 2022 07 18T101444.386

कैसे मिल रहा है इन सभी को फायदा

मान लीजिए दोस्तों कि आपकी फैमिली में कोई भी एक इंसान अमेरिका में नौकरी कर रहा है और उसकी सैलरी डॉलर में है. तो दोस्तों उसको जो सैलरी है वह डॉलर में ही मिलती है और सैलरी मिलने के बाद आपके परिवार का वह व्यक्ति पैसे आपके पास भेजता है. जिसको आप लोग भारतीय रुपए में डॉलर को चेंज करवाते हैं. और आप लोग जानते होंगे कि इस समय डॉलर का रेट ₹80 है. तो जो भी डॉलर आपके पास आए हैं जाहिर सी बात है कि वह आप लोग ₹80 के हिसाब से ही चेंज होंगे और आपको जो भी रकम मिलेगी वह भी ₹80 के हिसाब से दी जाएगी. 

अगर कोई भी व्यक्ति अमेरिका से आपको $100 भेज देता है तो वह भारत में आकर लगभग ₹8000 बन जाते हैं. और अगर यही डॉलर की कीमत अगर ₹70 होती तो $100 के आप लोगों को मात्र ₹7000 ही मिलते यानी कि आप लोगों को ₹1000 का घाटा हो जाता. तो इस तरीके से दोस्तों डॉलर की बढ़ती कीमतों से भी काफी लोगों को मुनाफा हो रहा है. 

विदेशों से भारत में कितना पैसा आता है

विश्व बैंक की एक रिपोर्ट के मुताबिक 2020 में भारत को लगभग 83 अरब डालर भेजे गए थे. और 2020 में आने के बाद 2021 में दोस्तों लगभग 87 अरब डॉलर भारत में आए. दोस्तों विदेशों में नौकरी कर रहे युवक भारतीय नागरिकों को यानी कि जो भारत में उनके परिवार हैं उनको खूब मोटा पैसा भेजते हैं जिसके कारण भारत में मौजूद विदेशी बाजार में खूब मुनाफा होता है. 

एक्सपोर्ट करने वालों को काफी फायदा

जब भी दोस्तों डॉलर के मुकाबले रुपए की वैल्यू गिरती है तो जो भारतीय एक्सपोर्टर हैं उनको मोटा फायदा हो जाता है. हमारे देश की फार्मा कंपनी और सॉफ्टवेयर कंपनी डॉलर के चढ़ते बाजार से खूब फायदा उठाते हैं. क्योंकि दोस्तों इन कंपनियों को जो भुगतान मिलता है वह डॉलर में मिलता है. और अब भारत में इनका रुपया अधिक हो जाता है और इसी कारण उन सभी कंपनियों को मुनाफा होता है. 

माना कि दोस्तों बहुत से ऐसे एक्सपोर्टर हैं जो महंगाई के चलते ही चीज का फायदा बिल्कुल भी नहीं उठा पाते. क्योंकि इसके चलते यानी कि डॉलर के भाव बढ़ने के कारण उनके प्रोडक्ट की कॉस्ट भी बढ़ जाती है. मशीनरी सामान ऑटोमोबाइल और जैसे पेट्रोलियम प्रोडक्ट होते हैं तो इनकी कॉस्ट जब डॉलर बढ़ जाता है तो इनकी कॉस्ट भी बढ़ जाती है.

हमारा देश सबसे अधिक इंपोर्ट करने वाला देश है

दोस्तों भारत एक्सपोर्ट के मुकाबले इम्पोर्ट भी काफी अधिक वस्तुएं करता है यानी कि हमारा देश विदेशों से भी बहुत सारे प्रोडक्ट मंगवा ता है. Trolium के साथ-साथ दोस्तों खाने वाला तेल इलेक्ट्रॉनिक का सामान और बहुत सी ऐसी चीजें हैं. जिस के लिए भारत विदेशों पर निर्भर है ऐसे में दोस्तों जब डॉलर ₹80 पर पहुंच गया और रुपया कमजोर हो गया तो इसके चलते हमें विदेशों से सामान खरीदने के लिए अधिक रुपए देने पड़ते हैं. 

विदेश के मुद्रा भंडार में भी गिरावट

आरबीआई के अनुसार दोस्तों कई अंतरराष्ट्रीय मुद्दों के चलते हमारे देश का रुपया बराबर टूटता चला जा रहा है. और इसी के कारण दोस्तों देश विदेश के लोग विदेश के मुद्रा भंडार हैं उन्हें भारी गिरावट हो रही है. और हमारे देश में कारोबार में घाटा भी बढ़ता जा रहा है दोस्तों जून माह में हमारे देश के कारोबार में लगभग 26.18 अरब डॉलर का घाटा हुआ है. और दोस्तों रुपए को स्थिर रखने के लिए रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने खुले बाजार में डॉलर को बेचा है पर दोस्तों अभी भी इसका कोई असर दिखाई नहीं दे रहा है और लगातार रुपया टूटता चला जा रहा है.

ये भी पढ़ें

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular