HomeFashionStrawberry - स्ट्रॉबेरी खाने के नुकसान और फ़ायदे उसमें मौजूद पोषक तत्व...

Strawberry – स्ट्रॉबेरी खाने के नुकसान और फ़ायदे उसमें मौजूद पोषक तत्व | Strawberry Benefits and Facts.

Strawberry – स्ट्रॉबेरी में मौजूद पोषक तत्व और होने वाले फ़ायदे 

दोस्तों स्ट्रॉबेरी Strawberry, एक सीजनल फ्रूट है। गर्मियों का ये रसीला फल न केवल स्वादिष्ट है बल्कि पौष्टिक भी है। इसमें कई पौष्टिक तत्व जैसे प्रोटीन, कैलोरी, फाइबर, आयोडीन, फोलेट, ओमेगा 3, पोटेशियम, मैग्नीशियम, फास्फोरस, विटामिन आदि पाए जाते हैं। इसका रसदार खट्टा-मीठा स्वाद लोगों को बेहद भाता है। साथ ही इसकी खुशबू भी इसे दूसरे फलों से अलग बनाती है। इसका प्रयोग कई रूपों में किया जाता है, साथ ही इसके फ्लेवर का उपयोग कई प्रकार के स्वीट्स बनाने में किया जाता है जैसे मिल्कशेक, आइस-क्रीम, दही और जैम।

20220226 222556
Strawberry

पहले यह आसानी से नहीं मिलती थी लेकिन आज यह पूरे देश में पाई जाती है। पूरी दुनिया में इसकी 600 किस्म की प्रजातियां पाई जाती है और सभी क़िस्मो का रंग और स्वाद अलग होता है। स्ट्रॉबेरी खाने में जितना स्वादिष्ट होती है उतनी ही स्वास्थ्य के लिए भी फायदेमंद होती है। स्ट्रॉबेरी को भी एक प्रकार की बेरी ही माना जाता है। स्ट्रॉबेरी (स्ट्रॉबेरी के फायदे) में एंटीऑक्सीडेंट गुण और पॉलीफेनोल कंपआउंड पाए जाते हैं। स्ट्रॉबेरी में मौजूद विटामिन सी त्वचा और बालों को लंबे य तक स्वस्थ रखने में मदद करता है।

स्ट्रॉबेरी में पोषक तत्व ( Nutrition in Strawberry) 

क्रमांकपोषक तत्वमात्रा
ऊर्जा [Energy]33 कैलोरी
1.कार्बोहाइड्रेट्स7.68 ग्राम
2.शुगर4.89 ग्राम
3.डाईटरी फाइबर2 ग्राम
4.वसा [Fat]0.3 ग्राम
5.प्रोटीन0.67 ग्राम
विटामिन
1.थायमिन [Thiamine] [B1]0.024 मिलीग्राम [2%]
2.रिबोफ्लेविन [Riboflavin] [B2]0.022 मिलीग्राम [2%]
3.नियासिन [Niacin] [B3]0.386 मिलीग्राम [3%]
4.पैंटोथेनिक [Pantothenic] एसिड [B5]0.125 मिलीग्राम [3%]
5.विटामिन B60.047 मिलीग्राम [4%]
6.फोलेट [Folate] [B9]24 माइक्रोग्राम [6%]
7.कोलाइन [Choline]5.7 मिलीग्राम [1%]
8.विटामिन C58.8 मिलीग्राम [71%]
9.विटामिन E0.29 मिलीग्राम [2%]
10.विटामिन K2.2 माइक्रोग्राम [2%]

स्ट्रॉबेरी Strawberry खाने के 10 फ़ायदे

  1. लगातार रहने वाला तनाव की वजह से अक्सर दिल की बीमारी होने का खतरा रहता है। ऐसे में अगर रोजाना स्ट्रॉबेरी Strawberryका सेवन किया जाए, तो तनाव के साथ-साथ दिल की बीमारी को होने से रोका जा सकता है। इसके अलावा स्ट्रॉबेरी में मौजूद फ्लेवोनॉइड्स और एंटीऑक्सीडेंट्स बैड कॉलेस्ट्रॉल से बचाव करती हैं। जिससे धमनियां ब्लॉक होने से बच जाती हैं। धूम्रपान करने वाले लोगों में स्ट्रॉबेरी उस लिपिड पेरोक्सिडेशन को कम करती हैं जो दिल की बीमारियों का जोखिम बढ़ाता है।
  2. स्ट्रॉबेरी में विटामिन सी भरपूर मात्रा में पाया जाता है। विटामिन सी से शरीर का इम्यून सिस्टम मजबूत होता है। जिससे बीमारियों को दूर रख कर खुद को दिन भर एक्टिव महूसस करते हैं। इसके साथ ही स्‍ट्रॉबेरी Strawberry में मौजूद विटामिन सी शरीर को इंफेक्शन से भी बचाता है। 
  3. एक शोध के मुताबिक स्ट्रॉबेरी में ऐसे तत्व या घटक पाए जाते हैं, जो डायबिटीज़ के पीड़ित के शरीर के ग्लूकोज़ लेवल और लिपिड प्रोफाइल को बेहतर बनाती है। यही नहीं, रोजाना स्ट्रॉबेरी खाने से टाइप 2 डायबिटीज़ का जोखिम भी कम होता है।
  4. स्ट्रॉबेरी में 40 ग्लाइसेमिक इंडेक्स होता है जो काफी कम होता है। इसका मतलब है कि डायबिटीज़ के मरीज़ बिना ज्यादा चिंता किए इसे खा सकते हैं। इसके अलावा, स्ट्रॉबेरी में ऐसे घटक होते हैं जो डायबिटीज़ के मरीज़ों के ग्लूकोज़ लेवल और लिपिड प्रोफाइल पर अच्छा असर डालते हैं। नियमित रूप से स्ट्रॉबेरी खाने से टाइप 2 डायबिटीज़ का जोखिम भी कम हो जाता है। 
  5. स्ट्रॉबेरी के प्रयोग से बाल मजबूत बनते हैं और रूसी की समस्या से भी निजाद मिलती है। इसमें उपस्थित विटामिन सी बालों को गिरने से रोकता है और बालों को मजबूती प्रदान करता है। इसका प्रयोग करने के लिए 2 स्ट्रॉबेरी को अच्छे से मैश कर लें और इसमें नारियल का तेल और शहद मिलाकर आधे घंटे के लिए रख दें फिर इस मिश्रण को बालों पर आधे घंटे तक लगाकर बालों को धो लें। ऐसा हफ्ते में दो बार करने से बालों में असर देखने को मिलने लगेगा।
  6. स्ट्राबेरी Strawberry में पाया जाने वाला एक पदार्थ हैं – एलेजिक [Ellagic] एसिड. इसमें एंटी – केंसर प्रोपेर्टिज़ पाई जाती हैं, जिससे यह विभिन्न प्रकार के केंसर की रोकथाम में सहायक होता हैं, जैसे -: यह केंसर सेल्स की बढ़त [Growth] को रोकता हैं. इसमें पाया जाने वाला विटामिन C शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता [Immune System] को बनाये रखता हैं और केंसर की रोकथाम हेतु शरीर का स्वस्थ बने रहना, सर्वोत्तम उपाय हैं. स्ट्राबेरी में ल्योटीन [Lutein] और ज़िथेंसिन [Zeathancins] नामक एंटी – ओक्सिड़ेंट्स पाए जाते हैं, जो हमारी कोशिकाओं [Cells] में पाए जाने वाले हानिकारक तत्वों के प्रभाव को ख़त्म करते हैं.
  7. स्ट्राबेरी में पाया जाने वाला एक पदार्थ हैं – एलेजिक [Ellagic] एसिड. इसमें एंटी – केंसर प्रोपेर्टिज़ पाई जाती हैं, जिससे यह विभिन्न प्रकार के केंसर की रोकथाम में सहायक होता हैं, जैसे -: यह केंसर सेल्स की बढ़त [Growth] को रोकता हैं. इसमें पाया जाने वाला विटामिन C शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता [Immune System] को बनाये रखता हैं और केंसर की रोकथाम हेतु शरीर का स्वस्थ बने रहना, सर्वोत्तम उपाय हैं. स्ट्राबेरी में ल्योटीन [Lutein] और ज़िथेंसिन [Zeathancins] नामक एंटी – ओक्सिड़ेंट्स पाए जाते हैं, जो हमारी कोशिकाओं [Cells] में पाए जाने वाले हानिकारक तत्वों के प्रभाव को ख़त्म करते हैं.
  8. स्ट्रॉबेरी Strawberry में एक लाल रंग का एंटीऑक्सीडेंट भी पाया जाता है जिसका नाम एंथोसायनिन है। यह एंटीऑक्सीडेंट शरीर की एक्स्ट्रा चर्बी को कम करता है। इससे यह फल शरीर का वजन कम करता है।
  9. त्वचा को सुंदर और गोरा बनाने के लिए यह रस भरा फल बहुत ही फायदेमंद होता है। इसमें उपस्थित अल्फा हाइड्रोक्सी एसिड मृत त्वचा को जीवित कर त्वचा की नई सेल्स का निर्माण करता है। साथ ही इसमें सलिसीक्लिक एसिड और एललगिक एसिड की मात्रा भी होती है जो कि त्वचा के सभी काले धब्बों को हटाकर त्वचा को साफ और गोरा बनाने का काम करती है।
  10. स्ट्रॉबेरी विटामिन सी से भरपूर होने की वजह से शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने में मदद करती है। साथ ही हाई बीपी से पीड़ित व्यक्तियों के शरीर में रक्त संचरण में मदद करती है। what is nanotechnology

स्ट्रॉबेरी Strawberry के 4 नुकसान

  1. स्ट्रॉबेरी Strawberry के सीमित मात्रा से अधिक सेवन करने से पीलिया, शरीर में दर्द, और सूजन की समस्या भी आपको परेशान कर सकती है।
  2. स्ट्रॉबेरी Strawberry के ज्यादा सेवन से आपके शरीर में पोटैशियम की मात्रा ज्यादा हो सकती है। पोटैशियम ज्यादा होने पर आपको दिल से संबंधित परेशानी का सामना करना पड़ सकता है। इसके अलावा, आपको हाइपरकलेमिया भी हो सकता है, जिसकी वजह से मांसपेशियों में कमजोरी व लकवा हो सकता है।
  3. स्ट्रॉबेरी Strawberryमें फाइबर भी उच्च मात्रा में पाया जाता है। जिसका ज्यादा सेवन करने से आंतो से सम्बंधित परेशानी हो सकती है।
  4. कुछ लोगों को स्ट्रॉबेरी से एलर्जी (Allergic reaction) भी होता है। इसलिए उन लोगों को कभी भी इसका सेवन नहीं करना चाहिये।

निष्कर्ष

तो दोस्तों आज के इस आर्टिकल में हमने आपको स्ट्रॉबेरी Strawberry से होने वाले फ़ायदे और नुकसान और उसमे मौजूद पोषक तत्व के बारे में बताया है अगर आपको ये आर्टिकल पसंद आया है तो शेयर जरूर करना और एक comment भी धन्यबाद.

ये भी पढ़ें :-

Instagram से पैसे कैसे कमाएं

Vladimir Putin का जीवन परिचय.

Top 10 business ideas.

Top 10 Low Investment Business Ideas.

Bappi Lahiri biography in hindi.

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular