HomeSamacharBlack Rice : काला चावल की होती है अपनी अलग पहचान, जानिये...

Black Rice : काला चावल की होती है अपनी अलग पहचान, जानिये चावल की अनोखी प्रजातियाँ.

Black Rice : दोस्तों चावल भारत में सबसे ज्यादा खाई जाने वाली चीज है चावल पेट भरने के साथ-साथ हमारे शरीर को भरपूर ऊर्जा भी प्रदान करता है. हम लोग चावल का प्रयोग दोस्तों बिरयानी इडली और ऐसे ही बहुत से डिशेस बनाने के लिए किया करते हैं. चावल का उपयोग अधिकतर पूर्वी क्षेत्रों में और साउथ इंडिया में ज्यादा होता है. दिलचस्प बात ये है कि हमारा देश चावल का सबसे बड़ा निर्यातक माना जाता है. सबसे बड़ा चावल उत्पादक देश होने के नाते हमारे देश में बहुत से चावल की प्रजातियां और बहुत से चावल की किस्में मौजूद है जिसकी लिस्ट हम आपको बताने वाले हैं.

ezgif.com gif maker 2022 07 11T163624.719

गोविंदभोग चावल

दोस्तों गोविंद भोग चावल हर बंगाली के दिल पर छाप छोड़े हुए हैं. दोस्तों यह चावल बासमती के चावल जितना लंबा होता है हालांकि इसका खाने में स्वाद और इसकी सुगंध कुछ अलग ही होती है. 

मोगरा चावल

अगर आप लोग सस्ता चावल ढूंढ रहे हैं तो मोगरा चावल आपके लिए सबसे अच्छा हो सकता है. मोगरा को अगर सरल भाषा में समझा जाए तो इसका मतलब चमेली होता है. और इसके नाम से ही हम सब लोग समझ सकते हैं कि यह चावल सुगंधित होता है. इसमें दोस्तों बहुत अधिक मात्रा में स्टार्च होता है और हमारे देश में मोगरा चावल को बहुत ज्यादा पसंद किया जाता है.

इंद्रायणी चावल

दोस्तों महाराष्ट्र के पश्चिमी भागों में चावल की खेती हुआ करती है. और यह दोस्तों अंबेमोहर चावल की एक दूसरी किस्म है. इस चावल का प्रयोग अधिकतर मसाला भात, सादा चावल, बिरयानी या फिर इडली बनाने के लिए किया जाता है. 

बासमती चावल

दोस्तों बासमती चावल का प्रयोग अधिकतर बरयानी के लिए किया जाता है. इस चावल का अधिकतर उत्पादन दोस्तों जम्मू-कश्मीर हिमाचल प्रदेश और पंजाब में किया जाता है. शेल्फ लाइफ, अगर दोस्तों आप लोग स्वाद के साथ-साथ लंबा चावल पसंद करते हैं तो यह ऑप्शन सबसे अच्छा है. 

पलक्कड़न मट्टा

इस चावल को दोस्तों केरल के एक पलक्कड़ जिले में उगाया जाता है. और वहां के लोग इसे मत्ता चावल के नाम से भी पुकारते हैं. अधिकतर इसका उपयोग डोसा, इडली, अप्पम बनाने के लिए किया जाता है ऐसा कहां जाता है कि पलक्कड़न मट्टा और चोल राजवंशों के दौरान यह सबसे बेहतर व्यंजन के तौर पर इस्तेमाल किया जाता था. 

काला चावल

और दोस्तों इस काले चावल को मणिपुर में कुछ अजब नाम से जाना जाता है. और इस काले चावल का अधिकतर सेवन मणिपुर और कर्नाटक में किया जाता है. अधिकतर इसका इस्तेमाल किसी भी फंक्शन या धार्मिक कार्य या शादी विवाह में किया जाता है. 

ये भी पढ़ें

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular